Bounce Rate क्या है? Blog की rank कैसे बढ़ाये | Bounce rate in hindi

Bounce Rate क्या हैं और इससे आपकी website की rank कैसे बढ़ाये

क्या आपको पता है के Bounce Rate क्या हैं (What is Bounce rate in hindi), यह क्या होता है और इससे Blog की rank कैसे बढ़ाये?

अगर आपके पास एक ब्लॉग या एक वेबसाइट हैं और आपको bounce rate का वेबसाइट रैंकिंग मे महत्व नहीं पता तो ये आर्टिकल सिर्फ आपके लिए हैं.

Bounce Rate के बारे मे कहाँ जाये तो ये आपके Website की Ranking और SEO मे यह एक महत्वपूर्ण फैक्टर हैं.

हम इस पोस्ट में जानेंगे कि यह क्या होता है और आप इसके जरिये कैसे अच्छी ट्राफिक प्राप्त कर सकते हैं. इसके अलावा अपने ब्लॉग से बढ़िया इनकम करने के लिए कम से कम कैसे कर सकते हैं.

यहां पर आपको यह तो पता चल गया होगा की मैंने इसे कम करने की बात की ही हैं, तो ऐसा मैंने क्यों कहा है यह समझने से पहले, चलिए सबसे पहले Bounce Rate क्या हैं (Bounce rate meaning in hindi) इसके बारे में जान लेते है.

Bounce Rate क्या हैं और इससे आपकी website की rank कैसे बढ़ाये

Bounce Rate क्या है – What is Bounce rate meaning in Hindi

यह किसी भी एक वेबसाइट पर उन visitors की percentage होती है जोकि उस साइट का कोई भी एक पेज देखने के बाद ही उस वेबसाइट को फिरसे विजिट नहीं करते हैं। आसान भाषा में कहें, तो ये उन लोगों की percentage होती है जो की आपके website पर visit करते हैं और उसी पेज को देखने के बाद वेबसाइट को छोड़ देते हैं.

Example से समझे तो, अगर मेरे site (discoverinhindi) का bounce rate 50% हैं, इसका मतलब ये हुआ कि हमारी वेबसाइट को visit करने वाले total number of visitors में से 50% visitors ऐसे हैं जिन्होंने हमारी वेबसाइट पर केवल कोई एक पेज ही ओपन किया था.

यदि आप confuse हो रहे है तो मैं आपको फिर से एक बार बताता हु की, मानलो 100 लोगो ने मेरे ब्लॉग को विजिट किया हैं तो उसमे से 50 लोग ऐसे हैं जिन्होंने एक ही पेज ओपन किया और वोह वापस चले गए या दूसरी वेबसाइट पर चले गए. इसका मतलब यह हैं की 100 मैं से 50 लोग, मतलब 50% मेरे website का Bounce Rate हुआ. आशा करता हु की आपको इसका अर्थ समझ मे आगया होगा.

इसका मतलब ये हैं की website का bounce rate सबसे कम होगा, उतना ही बढ़िया होगा. अगर 100 मे से 10 लोग ही ऐसे होंगे तो जाहिर सी बात हैं की 90 लोगो ने और भी पेजेस आपके website पर सर्च कीये हैं.

अगर हम normal bounce rate की बात करें, तो वो 40 – 70% के बिच मे होता हैं. और अगर वो 10% से कम है तो आपको टेंशन free हो जाना चाहिए. पर 10% से कम bounce rate प्राप्त करने वाली sites लाखों में से कोई एक होती है.

90% से ज्यादा bounce rate का अर्थ है कि आपकी site पर लोगों का interest ही नहीं है और आपको और मेहनत करने की जरुरत हैं. आम तौर पर beginners level की जो websites का bounce rate 40% से 80% के बीच होता है. अभी आपको बस इतना ही याद रखना हैं.

Note – अगर आपकी site की Bounce Rate 50-70% के बिच मैं हैं तो आपको चिंता करने की जरुरत नहीं हैं.

लेकिन यहां पर मैंने पहले ही clear कर दीया है, की bounce rate जितना कम हो, उतना बढ़िया होता है. इसलिए हर एक ब्लॉगर का main motive bounce rate को कम से कम करने का होना चाहिए. अब bounce rate को कम करने के Hindi तरीकों के बारे में भी जान लेते हैं.

किस तरह की websites के लिए किस तरह के bounce rate हो सकते हैं :

  • Nokri वाली websites – 10-20%
  • Retail वाली sites – 20-40%
  • कोई services provide करने वाली websites – 10-30%
  • Full Content वाली websites – 40-60%
  • Porn sites या फिर Adult sites – 10 -15%
  • Lead generate करने वाली websites – 30-50%
  • Blogs – 70-90%

Website बाउंस रेट कम कैसे करें?

मै अब घुमा फिरा के बात नहीं करूंगा सीधा point पे आता हूं की मैंने research के दौरान पाया है कि बहोत सारे वेबसाइट तो, वह तरीके बताने की जगह फ़ालतू में दूसरे topics को add करके article की बस length को बढ़ाते रहते हैं. इसी कारण से मैंने शार्ट मे और आसान लीगल तरिके से bounce rate को कम करने के बेस्ट तरीके नीचे दिए हैं.

1. अपनी Site की उपयुक्तता को बढ़िया बनाईये

इसका अर्थ ये हैं की कोई भी व्यक्ति चाहे आप हो या फिर visit करने वाला कोई व्यक्ति किसी भी ऐसी website को खोलना नहीं चाहेगा जोकि दिखने (looks) में अच्छी नही है या फिर site responsive नही है. मतलब site का यूजर का experience अच्छा नही है.

2. Site की Navigation ठीक करे

इसके इलवा जिस भी वेबसाइट की navigation अच्छी नहीं होती, लोगों को उसे browse और surf करने में काफ़ी दिक्कत होती है. इसलिए आपको ऐसा कुछ करना होगा कि आपके वेबसाइट पर readers को आना और browse करना अच्छा लगे.

इसके लिए आप के website layout मे सही चीज सही जगह पे होनी बहोत जरूरी हैं. For example, आपकी site मे अगर search बॉक्स ही ना हो, या फिर निचे relative posts, या इंटरनल लिंक्स ही ना हो तो users को पता कैसे चलेगा की आपकी website मे और क्या क्या हैं.

3. Site का look अच्छा करे

Text color को light रखिये ज्यादा भी bright नहीं कर देना हैं और बहुत ज्यादा light colors का प्रयोग न कीजिये. आप मेरी website का font और text color तो देख ही सकते हैं.

कोई अच्छा सा fonts का चुनाव कीजिये. ये depend करता हैं की आपकी site किस language मे हैं और अपने text के साइज़ को इतना ज़रूर रखिये कि जिससे वह आसानी से पढने योग्य हो.

इस बात को निश्चित कीजिये कि आपकी website responsive हो और हर एक तरह के device वोह किसी भी size का हो उस पर बढ़िया तरीके से खुले. अपनी site को mobile friendly रखना बहुत ही ज्यादा ज़रूरी है क्योंकि आजकल mobile traffic desktop traffic से ज्यादा होता है. तो इस बात का जरूर ध्यान रखे.

अपनी site की थीम अच्छी होनी चाहिए और दूसरी जो दिख रहा है user को color या visual चीजे उसका combination कुछ ऐसा रखिये कि लोगों को अच्छा लगे जैसे white बैकग्राउंड पर black text का color. इससे site तो अच्छी दिखेगी ही परंतु वे आपकी site को और browse करना चाहें.

4. Page Load Time कम करे

Page Load Time किसी भी website के लिए एक बहुत ही ज्यादा important factor है. इसके इलावा Search Engine में भी higher rank करने के लिए आपकी वेबसाइट  का लोडिंग टाइम कम से कम होना चाहिए, क्योंकि यह एक Important SEO factor भी है.

5. Visitors attract करे

आपका मेन goal आपकी website पर ज्यादा से ज्यादा visitors प्राप्त करने का नहीं बल्कि targeted visitors प्राप्त करने का होना चाहिए जिसका मतलब ही की बाद मे भी उनको ये लगे की इस वेबसाइट से मुझे और भी अच्छी  इनफार्मेशन मिल सकती है तो वोह फिरसे विजिट्स करेंगे।

आप एक बार ये सोच के देखिये कि अगर कोई science पसंद करने वाला व्यक्ति, games websites को थोड़ी खोलना चाहेगा. इस लिए अपनी websites पर केवल उन लोगों target या फिर ब्लॉग पर लाने की कोशिश करनी चाहिए जो कि आपके Niche (या जो भी आपका कंटेंट हो) उसमे में interested हों.

इसके लिए आप अपने पोस्ट्स के लिए सही keywords का चुनाव कीजिये. अपनी वेबसाइट या ब्लॉग पर बहुत सारे unique quality content के साथ multiple pages को क्रिएट कीजिये.

Search Engine में आर्टिकल दिखने के लिए बढ़िया meta description और best ranking title दीजिये.

6. Website में quality content डाले 

व्यूज को बढ़ाने के लिए Quality content को provide करना किसी भी website की reputation से जुड़ा होता है. Quality Content के साथ ही website मे इंटरनल, एक्सटर्नल लिंक्स और इमेजेज डालना भी बहोत जरूरी है जिसे पोस्ट पढ़ने मे भी अच्छा लगे. इससे long-term में आप अपनी website को successfully run कर सकते हैं.

Bounce Rate कम करने के लिए Tips

1. Content unique होना चहिये

2. readers को ही targeted करने के लिए आपका जो भी niche है उसके लिए specific और ranking वाले keywords का ही use करें.

3. अपने content को error फ्री रखें.

4. पोस्ट में media का भी proper use करें, जैसे कि images, links और videos.

5. आपकी website के हर एक page का अपना एक unique motive होना चाहिए.

6. जिस भी प्लेटफार्म पर आपने website बनाई हो उसके built-in feature का पूरा इस्तेमाल करे.

अगर आपको Bounce Rate क्या हैं (Bounce rate meaning in hindi) इससे Blog की rank कैसे बढ़ाये यह आर्टिकल अच्छा लगा हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ जरुर share करे और यदि आप social media से जुड़े हुए है तो वहा पर भी लोगो को आर्टिकल के बारे में बताये जिससे सभी इस term को सिख सके.

Previous articleHow to Become Successful | 30 Effective Tips [Hindi]
Next articleGoogle Adsense से कितना Earning कर सकते है
Rushikesh
मुझे ब्लॉगिंग करना अच्छा लगता हैं और इस ब्लॉग को मैंने खास ऐसे लोगो के लिए बनाया हैं जिनसे वो अपना करियर और पैसा दोना कमा सकते हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here